National Career Service India

अब सरकार देगी आपको नौकरी...
बेरोजगारी भारत की बड़ी समस्याओं में... से एक है। आज डिग्रीधारी युवाओं के पास नौकरियां नहीं हैं। सरकारी छोड़िए, प्राइवेट नौकरी पाने के लिए भी युवाओं को काफी मशक्कत करना पड़ रही है। भारत के बेरोजगार युवाओं की परेशानी के लिए सरकार ने एक पोर्टल की शुरुआत की है।
इस पोर्टल को शुरू करने के पीछे सरकार का उद्देश्य है कि भारत के बेरोजगार युवाओं को एक ही जगह पर नौकरियों से संबंधित सारी जानकारी उपलब्ध हो जाए। सरकारी ही नहीं, प्राइवेट सेक्टर की नौकरियां भी उन्हें इस पोर्टल पर मिल जाएं। इस पोर्टल की शुरुआत डिजिटल इंडिया के अंतर्गत की गई है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 46वें भारतीय श्रम सम्मेलन के दौरान नेशनल करियर सर्विस पोर्टल लांच किया था। इस पोर्टल पर युवा जॉब्स के अलावा विशेषज्ञों से करियर काउंसलिंग और मनोवैज्ञानिकों से मुफ्त में सलाह ले पाएंगे।
आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार देश में फिलहाल 956 रोजगार कार्यालय हैं, जहां 4 करोड़ 47 लाख लोग रजिस्टर्ड हैं। इनमें से 2 करोड़ 68 लाख से ज्यादा लोग 29 साल से कम उम्र के हैं। इस पोर्टल का प्रारम्भिक लक्ष्य ऐसे ही लोगों को पोर्टल पर लाना और उन्हें रोजगार मुहैया करवाना है। रोजगार कार्यालायों से जुड़ी 9 लाख संस्थाओं और कंपनियों को भी पोर्टल से जोड़ा जाएगा।
सरकार ने पहले चरण में देश के 100 रोजगार कार्यालयों के आधुनिकीकरण का निर्णय किया है। आधुनिकीकरण के लिए 190 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया गया है। ये रोजगार कार्यालय अब काउंसलिंग सेंटर्स का भी काम करेंगे।